पुष्य नक्षत्र में सराफा बाजार रहा ठंडा, दिवाली से आस:किसानों का धान न बिकना और बीएसपी का समय पर बोनस न मिलना बताया जा रहा बड़ा कारण

- Advertisement -

दुर्ग – ब्लैकआउट न्यूज़- सराफा बाजार काफी ठंडा है। सराफा व्यापारियों का कहना है कि किसानों का धान अब तक बिका नहीं है। बीएसपी कर्मियों को दीपावली का बोनस समय पर नहीं मिला है। इसके चलते पुष्य नक्षत्र में होने वाला व्यापार एक दम ठंडा रहा। कई सराफा व्यापारियों की तो बोहनी तक नहीं हुई। बीएसपी कर्मियों को बोनस की घोषणा कर दी गई है। इससे उम्मीद जताई जा रही है कि धनतेरस और दीपावली को पहले की तरह रौनक लौट आएगी।

 

- Advertisement -

 

यह भी पढ़ें – KORBA : हाथी के शावक को मारकर दफनाया,वन विभाग की टीम; मौत से गुस्साए झुंड ने ली ग्रामीण की जान

सहेली ज्वेलर्स के संचालक मदन जैन का कहना है कि वह 55 सालों से सराफा के कारोबार से जुड़े हैं। उन्होंने ऐसा पुष्य नक्षत्र पहली बार देखा है कि बाजार में रौनक नहीं दिखी। उनकी माने तो दुर्ग जिले का सराफा कारोबार पुष्य नक्षत्र में एक हजार करोड़ रुपए का होता था। इस बार यह 100 करोड़ रुपए में ही सिमट गया है।

 

 

मदन जैन का कहना है कि दुर्ग और भिलाई का सराफा बाजार मुख्य रूप से बीएसपी कर्मचारियों के बोनस और किसानों के धान के बोनस पर निर्भर करता है। ये दोनों ही चीजें इस बार काफी लेट हैं। किसानों का धान इस बार कट कर घर नहीं पहुंचा और न ही बिक पाया है। इससे वो लोग खरीदी नहीं कर पा रहे हैं। इसके साथ ही बीएसपी ने दिवाली बोनस भी नहीं दिया था। सर्विस वर्ग और व्यापारी वर्ग ने खरीदी की है, लेकिन वह भी न के बराबर ही रहा।

 

 

 

दीपावली और धनतेरस में लौटेगी बाजार की रौनक
छत्तीसगढ़ चैंबर ऑफ कामर्स के उपाध्यक्ष और दुर्ग सराफा संघ के अध्यक्ष प्रकाश सांखला का कहना है कि वह 25 सालों से इस कारोबार में है। इतना मंदा बाजार पहली बार हुआ है। आगे दीपावली और धनतेरस की तैयारी सभी सराफा व अन्य व्यापारियों ने कर रखी है। बीएसपी के बोनस की घोषणा हो गई है। जल्द ही वह खातों में आ जाएगा। इसके बाद न सिर्फ सराफा बल्कि इलेक्ट्रॉनिक्स, आटो मोबाइल सेक्टर व अन्य सेक्टर का मार्केट अच्छा बूम पकड़ेगा।

 

 

पीले सोने की जगह गुलाबी सोना की ओर अधिक झुकाव
अब तक सराफा बाजार में पीले सोने की काफी डिमांड होती थी। अब यह डिमांड काफी कम होती जा रही है। लोगों में रोज गोल्ड लेने का खासा क्रेज देखने को मिल रहा है। सराफा व्यापारियों का कहना है कि यह नार्मल सोना ही होता है। इसमें गुलाबी पॉलिस होती है। इसकी चमक भी नहीं जाती है। देखने में भी यह काफी आकर्षक लगता है। प्लेटिनम और रोज गोल्ड से बने आभूषणों को लोग काफी पसंद कर रहे हैं।

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -